50 amazing Life Changing Stories : Shikar Ka Ailan Hindi Kahani

Shikar Ka Ailan Hindi Kahani : तो आज इस 50 amazing Life Changing Stories के साथ में हम आप लोगों के लिए एक ऐसी दिलचस्प कहानी लाए हैं जिसका सार यह है कि हमें कभी भी अपने आसपास चापलूस लोगों के साथ में नहीं रहना चाहिए क्योंकि हम खुद ही विपदा में उन लोगों की वजह से आ जाते हैं।

Shikar Ka Ailan Hindi Kahani : आज के आर्टिकल के माध्यम से हम आप लोगों को यह बताने का प्रयास करेंगे कि एक कहानी के दम से आप कैसे अपने प्रयासों से और कैसे अपने आप को सुरक्षित रख सकते हैं चापलूसी से और उसकी वजह से आप पर कैसे विपदा नहीं आती।
Shikar Ka Ailan Hindi Kahani

Shikar Ka Ailan Hindi Kahani : यह कहानी है एक शेर की जो एक जंगल का राजा हुआ करता था उस जंगल के राजा के पीछे लोमड़ी और सियार जैसे आसपास चापलूस जानवर थे जिनकी जिंदगी बहुत आराम में करती थी एहसास पूरे जंगल के जानवर जानते थे कि यह चारों जानवर शेर की चापलूसी कर कर ही जंदा है क्योंकि शेर की चापलूसी में वह कुछ कुछ अच्छे शब्द बोल कर शेर को अपने हक में कर लेते थे और शेर भी जंगल का राजा था तो सारे जंगल के जानवर उससे डरते थे

Shikar Ka Ailan Hindi Kahani : तो इस बात को शेर के सामने कोई भी नहीं बोलता था।
शेर एक ऐसा जानवर था उस जंगल का जो शक्तिशाली तो था ही पर उसको जीवन में इस बात का आभास नहीं था कि उसके आसपास के लोग ही चापलूस हैं

Shikar Ka Ailan Hindi Kahani


Shikar Ka Ailan Hindi Kahani : एक बार की बात है शेर शिकार के लिए गया था हर रोज शेर शिकार के लिए जाता था और जो भी शिकार लेकर आता वह सियार, चीता ,लोमड़ी और चील मिलकर खा जाते थे ।और उसके सामने चापलूसी भरे शब्दों में शेर को वह लोग चढ़ा देते थे शेर उनकी बातों से खुश हो जाता और उनको आराम से जंगल में रहने देता ।


Shikar Ka Ailan Hindi Kahani : एक बार की बात है चील उड़ते उड़ते झुंड में आई और यह बात उसने अपने दोस्तों को बताई की जंगल के बाहर एक ऊंट है और यह बात सुनकर वह सारे लोग बहुत ज्यादा खुश हो गए इस बात को सुनकर बाकी सारे जानवर इसमें खुश हुए और उन्होंने एक तरकीब बनाई

Shikar Ka Ailan Hindi Kahani : कि क्यों ना जंगल के राजा शेर को इस बारे में बताया जाए और उस से आग्रह किया जाए कि वह उस ऊंट को मार कर ले आए और हमारा बहुत दिनों तक खाने का इंतजाम हो जाएगा सब नहीं सर कि मैं हामी भर दी और चील उड़ती उड़ती राजा के पास गई और शेर को यह बात बताई कि जंगल के बाहर एक ऊंट अपने झुंड से बिछड़ गया है और ऐसा कहा उसने कि हम जानते हैं कि जो भी जानवर इंसानों के साथ रहता है इंसान जिसे पालते हैं वह काफी ज्यादा तंदुरुस्त भी होता है

Shikar Ka Ailan Hindi Kahani


Shikar Ka Ailan Hindi Kahani : और हमारे बहुत दिनों तक खाने का इंतजाम भी हो जाएगा यह बात सुनकर राजा को बड़ी खुशी हुई और शेर उसे मारने के लिए जंगल के बाहर चल दिया उनके पास पहुंचा तो ऊंट की बहुत दयनीय स्थिति थी उसकी आंखें भी पीली पढ़ चुकी थी और उसका शरीर से खड़ा नही हुआ जा रहा था शेर को उस पर तरस आ गया और शेर ने उसे यह पूछा कि कैसे हुई अवस्था का कारण पूछने के बाद राजा ने उसे मारने से मना कर दिया


और उसने बताया कि उसका जो मालिक है उसने ना तो बहुत दिनों से उसे खाने के लिए कुछ दिया और ना ही उसके बीमारी का इलाज करवाया इसी की वजह से आप मुझे मार दीजिए ताकि मेरा दर्द कम हो उसकी देख कर उसे अपने साथ जंगल में ले जाने का फैसला किया जंगल में रहकर बहुत दिनों तक उसने और

Shikar Ka Ailan Hindi Kahani


Shikar Ka Ailan Hindi Kahani : अपना ख्याल रखा इसकी वजह से ऊंट बहुत तंदुरुस्त हो गया और अब वह बीमार भी नहीं था इस बात को देखकर बाकी सारे जानवर बहुत ज्यादा गुस्से में भी थे और वह उन्हें ऊंट से बड़ी फिर जलन हो रही थी अब राजा ऊंट की सवारी भी करता था और ऊंट भी राजा से खुश था क्योंकि उनका जीवन राजा का ही दिया हुआ था एक बार की बात है वह चारों चापलूस लोग आए और
उन्होंने राजा को बताया कि एक हाथी जंगल में आ गया है तो क्यों ना उसका शिकार किया जाए।

वह हाथी पागल था और उसने शेर को शिकार करने नहीं दिया बल्कि शेर को ही पटक दिया और जिससे शेर को बहुत ज्यादा चोट है इतनी चोट आई कि शेर और ढंग से चल भी नहीं पा रहा था इसी की वजह से शेर का जीवन यापन करना बहुत मुश्किल हो गया था

Shikar Ka Ailan Hindi Kahani : वह शिकार नहीं कर पाता और जंगल में चीता और जो चापलूस जानवर थे उनको खाने तक के लाले पड़ गए उन लोगों ने तरकीब निकाली उन लोगों ने शेर के पास जाकर एक-एक करके कहा कि आप हमें खा लीजिए आप हमें खा लीजिए और यह देखकर मासूम ऊंट को उनकी चापलूसी और उनकी तरकीब समझ नहीं आई और

Shikar Ka Ailan Hindi Kahani : उसने आगे बढ़ कर कह दिया कि मेरी जिंदगी आपकी ही दी हुई है आप मुझे खा लीजिए और अपनी भूख मिटा लीजिए यह सुनते ही वह चारों चापलूस जानवर उस पर झपट पड़े और उन्होंने उसको मार दिया इस कहानी से हमें यह सीखने को मिला कि हमें कभी भी चापलूस लोगों के आसपास नहीं रहना चाहिए और उन पर कभी भी विश्वास नहीं करना चाहिए इसी की वजह से यह हो जाता है कि आप को नुकसान उठाना पड़ता है चापलूस लोगों की वजह से।

YOU CAN ALSO READ

5 Amazing Facts About Martial Law : Martial Law Meaning in Hindi

50 amazing Life Changing Stories : Shikar Ka Ailan Hindi Kahani

इस कहानी से हमें यह शिक्षा मिलती है कि सबसे पहले तो हमें चापलूसी कभी नहीं करनी चाहिए हमें अपने दम पर ही अपना काम निपटाना चाहिए यदि हम किसी दूसरे व्यक्ति पर चापलूसी करके आगे बढ़ रहे हैं तो जीवन में कभी भी आगे नहीं बढ़ सकते हम सिमट कर रह जाते हैं इस क्षेत्र में ही और उसी के साथ साथ हमें चापलूस लोगों पर विश्वास भी नहीं करना चाहिए क्योंकि चापलूस तो कैसे लोग होते हैं जो कि दूसरे के जीवन को खराब कर देते हैं अपनी चापलूसी की वजह से।

Leave a Comment