5 Best Health Benefits Of Urdhva Sarvangasana in Hindi

Benefits Of Urdhva Sarvangasana in Hindi : आज के इस आर्टिकल में हम आप लोगों को और दो सर्वांगासन के बारे में बताएंगे इस आर्टिकल के माध्यम से मैं आप लोगों को इस बारे में बताएंगे कि इस आसन को किस प्रकार आप कर सकते हैं और उसी के साथ साथ आप किस प्रकार चीजों को अपने लिए प्रभावशाली बना सकते हैं सिर्फ एक आसन की मदद से इस आर्टिकल के माध्यम से आप लोगों को यह भी बताएंगे कि इस आसन के क्या-क्या फायदे होते हैं ।

5 Best Health Benefits Of Urdhva Sarvangasana in Hindi

और उसी के साथ साथ आप लोगों को इस बारे में भी बताने का प्रयास करेंगे कि वह कौन-कौन सी चीजें हैं जिनको करते वक्त इस आसन को आप को ध्यान में रखनी होती है क्योंकि बहुत बार ऐसा होता है कि आप किसी एक आसन को बहुत वक्त से करते हैं पल सही तरीके से ना करने की वजह से आपको उसके प्रभाव महसूस नहीं होते और उसके प्रभाव आपको अपने जीवन काल में नहीं मिलते तो इस आर्टिकल के माध्यम से हम इसी आसन के बारे में चर्चा करेंगे।

What is Urdhva Sarvangasana?( Urdhva Sarvangasana क्या होता है ?)

इस आसन के बहुत सारे फायदे होते हैं और ऐसा कहा जाता है कि यदि आप इस आसन को नियमित तौर पर करते हैं तो आपको अपने सभी अंगों को व्यायाम करने का मौका है शासन के द्वारा मिलता है ऐसा कहा जाता है कि सर्वांगासन अपने आप में ही एक पोस्ट शक्तिशाली आसन के रूप में निकल कर आता है और यह उर्दू सर्वांगासन एक उसी तरह का आसन है जो कि सर्वांगासन का ही एक टाइप होता है और इसकी मदद से आप अपने पाचन तंत्र को पिट्यूटरी ग्लैंड को और मोटापे जैसी बीमारियों को कम कर सकते हैं

What is Urdhva Sarvangasana?( ऊर्ध्व सर्वांगासन क्या होता है ?)

और ऐसा कहा जाता है कि इस आसन को यदि आप नियमित तौर पर करते हैं तो आपके मन को बहुत ज्यादा शांति मिलती है और उसी के साथ इस आसन को नियमित तौर पर करने से आपके मानसिक स्तर पर भी लाभ मिलते हैं।

What is Urdhva Sarvangasana?( ऊर्ध्व सर्वांगासन क्या होता है ?)

How to do Urdhva Sarvangasana ( ऊर्ध्व सर्वांगासन कैसे कर सकते हैं?)

इस आसन को करने की सही विधि होती है जिसकी मदद से आप इसके लाभ उठा सकते हैं वह कुछ इस प्रकार होती है ।
1) यदि हम बात करें सबसे पहले तो आपको इस बात का ध्यान रखना होता है कि इस आसन को करते वक्त आप किसी शांत जगह पर चुने उसके बाद में कोहनियों को आप भूमि पर टिका ले।

2)उसके बाद आपको पैरों को मिलाकर सीधा रखना होता है धीरे-धीरे आपको पंजों की ओर आंख बंद करके उसे ऊपर की ओर लेकर जाना होता है ।

How to do Urdhva Sarvangasana ( ऊर्ध्व सर्वांगासन कैसे कर सकते हैं?)

3) इतना प्रयास करना होता है कि आपका सारा भार आपके गर्दन के निचले हिस्से पर ही हो

4) उसके बाद आपको इस चीज का बहुत ज्यादा ध्यान देना होता है कि यदि आपको कमर से संबंधित बीमारी होती है तो आपको इस आसन को करने से बचना चाहिए।

RELATED ARTICLE

5 Interesting Facts about The Name Kritika: Kritika Name Meaning in Hindi

5 Interesting Facts about The Name Kanishka: Kanishka Name Meaning in Hindi

FAQ Related To 4 Best Health Benefits Of Urdhva Sarvangasana in Hindi

Can we do Urdhva Sarvangasana twice in a day? (क्या हम ऊर्ध्व सर्वांगासन को दिन में दो बार कर सकते हैं?)

जी हां आप इस आसन को दिन में दो बार कर सकते हैं पर इसके लिए आपको यह ध्यान में रखना बहुत जरूरी होता है कि आप किसी expert की देखरेख में ही से करें।

Can we lose fat with the help of Urdhva Sarvangasana? (क्या ऊर्ध्व सर्वांगासन की मदद पेट की चर्बी घटा सकते हैं?)

जी हां ऊर्ध्व सर्वांगासन के बहुत सारे फायदे होते हैं जिनमें से एक फायदा यह भी होता है कि आपके अनावश्यक चर्बी को है कम करता है।

After how many minutes of drinking water we can do yoga? (योग करने के कितने वक्त पहले हमें पानी पीना चाहिए?)

यदि आप किसी भी प्रकार का कोई भी शारीरिक व्यायाम कर रहे हैं तो उसके आपको 30 से 35 मिनट पहले या अभी से 35 मिनट बाद ही पानी का सेवन करना चाहिए।

Final Words for 4 Best Health Benefits Of Urdhva Sarvangasana in Hindi

हम आशा करते हैं कि आप लोगों को याद कर पसंद आया होगा अपना कीमती वक्त निकालकर इसे पढ़ने के लिए धन्यवाद!

Leave a Comment