6 Best Health Benefits Of Suchi Mudra in Hindi

Benefits Of Suchi Mudra in Hindi : योगासन से जुड़े कुछ ऐसे मुद्राएं होती हैं जिनकी मदद से आप अपने शरीर को और अपने दिमाग को काफी ज्यादा सकारात्मकता दे सकते हैं आज के इस आर्टिकल के माध्यम से हम आप लोगों को एक ऐसे ही मुद्रा के बारे में बताएंगे जिसका नाम सूची मुद्रा है और इसे के माध्यम से आप लोगों को यह भी बताने का प्रयास करेंगे कि कैसे आप इस मुद्रा के सहारे से अपने आप को काफी ज्यादा फायदा पहुंचा सकते हैं इस आर्टिकल के माध्यम से 6 Best Health Benefits Of Suchi Mudra in Hindi बताएंगे इस मुद्रा के जिसके माध्यम से आप अपने जीवन को पूरी तरह से बदल सकते हैं।

6 Best Health Benefits Of Suchi Mudra in Hindi

What is Suchi Mudra ?(सुची मुद्रा क्या होता है?)

ऐसा कहा जाता है कि योगिक चिकित्सा में हमारे बहुत सारे मुद्राओं का बहुत गहरा योगदान होता है या फिर यूं कहिए कि यह योगिक चिकित्सा का एक महत्वपूर्ण अंग होते हैं ऐसा कहा जाता है कि शरीर में मौजूदा जो तत्व होते हैं यह उन्हें संतुलित करते हैं और इन्हीं मुद्राओं के सहारे हम अपने शरीर के अंदर की ऊर्जा को एकत्रित करके अपने शरीर के अंदर अविश्वसनीय प्रभाव ला सकते हैं ।

What is Suchi Mudra ?(सुची मुद्रा क्या होता है?)

जो शुद्धता को संबोधित करती है संस्कृत भाषा में सूची मतलब शुद्धता होता है और ऐसा कहा जाता है कि यदि आप नियमित तौर पर इस मुद्रा को अभ्यास करते हैं तो यह आपके जीवन में स्वच्छता लेकर आती है और आपको पेट से संबंधित और पेट से जुड़ी सारी बीमारियां दूर होती है और आपका मन भी शांत रहता है।

How to do Suchi Mudra ?(सुची मुद्रा कैसे कर सकते है ?)

सबसे महत्वपूर्ण सवाल यह उठता है कि इस मुद्रा को अभ्यास कैसे करते हैं उसी के साथ साथ बहुत लोग इस मुद्रा को करते तो हैं पर उन्हें सही तरीका नहीं पता होने की वजह से वह सही से इस मुद्रा को नहीं कर पाते तो चलिए जानते हैं कि इस मुद्रा को करते कैसे हैं।

1) इस मुद्रा को सही तरीके से करने का तरीका होता है कि सबसे पहले तो आपको एक समतल जमीन पर आसन बिछाकर बैठना होता है जहां पर शुद्ध हवा हो तो और भी ज्यादा अच्छा होता है।

How to do Suchi Mudra ?(सुची मुद्रा कैसे कर सकते है ?)

2) उसके बाद मैं आपको अपने को नहीं हो अपनी छाती से लगा लेना होता है और अपने हाथों की मुट्ठी बांध लेनी होती है।

3) धीरे-धीरे आपको प्रयास करना होता है कि आपके हाथों की तर्जनी उंगली को आप खोलें और अपने दाहिने हाथ की उंगली को आपको पहले खोलना होता है और उसे अपने आंख के सामने रखना होता है और उस पर कम से कम 10 से 15 सेकंड तक आपको ध्यान केंद्रित करना होता है।

4) उसके बाद मैं आपको अपने बाएं हाथ की तर्जनी उंगली को खोलना होता है और उस पर अपनी आंखों को केंद्रित करना होता है यह आपको 15 से 20 सेकंड तक दोहराना होता है और उसे दोहराने के चक्कर में आपका एक चक्र सूची मुद्रा का पूरा होता है।

5) आपको इस मुद्रा के 1 से 10 चक्कर तक करने होते हैं और बाकी आप को धीरे धीरे वक्त के साथ सारे से बढ़ाना होता है तभी आपको इसके सकारात्मक प्रभाव मिलते हैं।

How to do Suchi Mudra ?(सुची मुद्रा कैसे कर सकते है ?)

RELATED ARTICLE

5 Amazing Health Benefits of Upavistha Konasana in Hindi

5 Interesting Facts about The Name Ekaksh: Ekaksh Name Meaning in Hindi

FAQ Related To 6 Best Health Benefits Of Suchi Mudra in Hindi

Can we do Suchi Mudra twice in a day? (क्या हम सुची मुद्रा को दिन में दो बार कर सकते हैं?)

जी हां आप इस आसन को दिन में दो बार कर सकते हैं पर इसके लिए आपको यह ध्यान में रखना बहुत जरूरी होता है कि आप किसी expert की देखरेख में ही से करें।

Can we lose fat with the help of Suchi Mudra? (क्या सुची मुद्रा की मदद पेट की चर्बी घटा सकते हैं?)

जी हां सुची मुद्रा के बहुत सारे फायदे होते हैं जिनमें से एक फायदा यह भी होता है कि आपके अनावश्यक चर्बी को है कम करता है।

After how many minutes of drinking water we can do yoga? (योग करने के कितने वक्त पहले हमें पानी पीना चाहिए?)

यदि आप किसी भी प्रकार का कोई भी शारीरिक व्यायाम कर रहे हैं तो उसके आपको 30 से 35 मिनट पहले या अभी से 35 मिनट बाद ही पानी का सेवन करना चाहिए।

Final Words for 6 Best Health Benefits Of Suchi Mudra in Hindi

हम आशा करते हैं कि आप लोगों को याद कर पसंद आया होगा अपना कीमती वक्त निकालकर इसे पढ़ने के लिए धन्यवाद!

Leave a Comment