What Is The Best Time For Meditation in Hindi and its 4 Benefits

अक्सर बहुत सारे लोग मेडिटेशन तो किया करते हैं पर उन्हें बेस्ट टाइम फॉर मेडिटेशन के बारे में बहुत कम ही जानकारी हुआ करती है। Best time for meditation एक ऐसी चीज है जिसकी मदद से आप Meditation के 100% फायदा उठा सकते हैं । पर अक्सर लोग इस बारे में जानकारी ना होने की वजह से इसके फायदे नहीं उठा पाते। क्योंकि वह Meditation करते तो है पर Best Time For Meditation में ना कर पाने की वजह से उनको इसका पूरा लाभ नहीं मिल पाता। तो आज के साथ कल की मदद से हम आप लोगों को यह बताने का प्रयत्न करेंगे कि Best Time For Meditation होता क्या है । 

Best Time For Meditation के Benefits क्या-क्या हुआ करते हैं और इस Article की मदद से हम आपको यह भी बताएंगे कि सुबह के समय ध्यान करना कैसे लाभदायक हो सकता है।इस आर्टिक्ल ‘What Is The Best Time For Meditation in Hindi’ में बताया है कि ध्यान करने का उचित समय क्या है? क्योंकि में लंबे समय से ध्यान कर रहा हूँ । इसलिए इस आर्टिक्ल में मैंने अपने अनुभव को भी शामिल किया है ।

परिचय – मेडिटेशन शब्द का हिंदी रूपांतरण है “ ध्यान “ । ध्यान आत्मा को और मस्तिष्क को शांति प्रदान करने की एक शक्ति है । 15 मई को विश्व मैडिटेशन दिवस मनाया जाता है। ध्यान के माध्यम से आप अपने तनाव को कम कर सकते हैं वैसे तो ध्यान करना बहुत ही मुश्किल कार्य है क्योंकि मनुष्य के मस्तिष्क में अनेक आवाज और सोच लगाकर गति से चलती है जिन को रोकना बहुत मुश्किल है लेकिन असंभव नहीं है।

उदाहरण – आपको 5 मिनट का कोई कार्य करने को कहा जाए तो आपको पता ही नहीं चलेगा कि समय पूरा हो गया है लेकिन आपको 5 मिनट आंख बंद करके शांत बैठने को कहा जाए तो आपको बहुत अधिक समय लगेगा इसका कारण है आपका मन चंचल है और इस चंचल मन को स्थिर रखना ही ध्यान है।

Best Time For Meditation
Best Time For Meditation

ध्यान (Meditation) की मुद्रा में रहते हुए अपनी श्वास गती को सुनना पक्षियों की ध्वनि को साफ तरीके से सुन पाना ही मेडिटेशन है। ध्यान रहे जब आप ध्यान (Meditation position) मुद्रा में है तो आपको अन्य किसी बाहरी आवाज का आभास नहीं होना चाहिए उसी स्थान पर एकाग्रता होनी चाहिए। ध्यान( Meditation) करने का उद्देश्य ध्यान मुद्रा से मनुष्य के मन में करुणा, प्रेम ,धैर्य, उदारता, क्षमा आदि बनाए रखना है। ध्यान (Meditation)  का प्रमुख उद्देश्य अपने सोचने की शक्ति पर विराम लगाना है।

ध्यान के लाभ  (Benefits of Meditation)

  1. तनाव से मुक्ति -: ध्यान Meditation करने से हमारे मस्तिष्क को ऊर्जा प्राप्त होती है तथा सकारात्मक सोचने की क्षमता बढ़ती है जिसके कारण तनाव से मुक्ति मिलती है|
  2. अवसाद से मुक्ति -: ध्यान करने से शरीर में ऊर्जा प्राप्त होती है जिससे अवसाद से मुक्ति मिलती है|
  3. एंटी एजिंग -:  तनाव व अवसाद से मुक्त होने पर मन प्रसन्न होता है जिसके कारण एंटी एजिंग क्षमता उत्पन्न होती है
  4. नींद के लिए लाभकारी -: ध्यान करने से जब मस्तिष्क और शरीर तनाव से वह अवसाद से मुक्त हो जाता है तो नींद भी अच्छी आती है।

ध्यान करने का उचित समय क्या है? What is the best time of Meditation?

मेडिटेशन का उपयुक्त समय क्या है?

वैसे तो ध्यान करने का एक सही समय होता है लेकिन अगर आप इसे सही समय पर नहीं करेंगे तो इसका कोई लाभ नहीं होगा । जीवन में प्रत्येक व्यक्ति की दिनचर्या अलग-अलग होती है, जिसके कारण समय का निर्धारण करना मुश्किल होता है| यूं तो ध्यान किसी भी समय किया जा सकता है लेकिन ध्यान करने के लिए सुबह और शाम का ध्यान करना उचित होता है।

What Is The Best Time For Meditation in Hindi
What Is The Best Time For Meditation in Hindi

लेकिन यदि आपके पास समय कम है तो ध्यान ना करने से अच्छा है करना आप ध्यान किसी भी समय कर सकते हैं। मुख्य रूप से आप सुबह के समय ध्यान करना चाहते हैं तो वैज्ञानिक दृष्टि से सुबह 3:00 से 6:00 बजे का समय सर्वोत्तम माना जाता है।

सुबह के समय ध्यान करना कैसे लाभदायक है ?

या सुबह के 4:00 बजे ध्यान क्यों करना चाहिए?

What are the benefits of Morning Meditation?

सुबह का ध्यान आपकी दिनचर्या को निर्धारित करता है आप सुबह उठते हैं तो आपके अंदर एक नई ऊर्जा उत्पन्न होती है जिसके साथ ध्यान करना आसान हो जाता है आपको अत्यधिक लाभ मिलता है। यह वैज्ञानिक तथ्य है कि सूर्य का प्रारंभिक प्रकाश हमारे स्वास्थ्य के लिए लाभदायक है।  3:00 से 6:00 में प्रकृति बहुत शांत होती है, जिसके कारण ध्यान करना एकाग्रचित्त होता है।

प्रातः कालीन ध्यान से पूरे दिन ऊर्जा बनी रहती है। कहा जाता है कि सुबह 4:00 बजे ब्रह्म मुहूर्त होता है ब्रह्म मुहूर्त में ऊर्जा अधिक उत्पन्न होती है| इस समय ध्यान करने से भीतर सोई हुई शक्ति बाहर आती है,ब्रह्म मुहूर्त में किया गया कार्य उसी प्रकार विकसित होता है जिस प्रकार सूर्य खाद की उपस्थिति में पौधा विकसित करता है।

  1. ब्रह्मा मुहूर्त में आप जो सोचते हैं वह अवश्य ही पूरा हो जाता है आप सोचेंगे कि सोचते तो हम लेकिन होता नहीं हैं लेकिन सुबह का मुहूर्त ही उचित क्यों है ?
  2. इसका एक उदाहरण है आप एक स्थान से दूसरे स्थान पर जाते हैं तो दिन में ट्राफिक अधिक होने के कारण देरी से पहुंचते हैं और सुबह के समय उसी जगह जल्दी पहुंच जाते हैं। अतः कहा जाता है कि सुबह के समय अधिकांश व्यक्ति सोए होते हैं जिसके कारण ब्रह्मांड में क्रियाएं बहुत कम होती है और उस समय यदि आप जाते हैं तो आपके सोचने की क्रिया या मेडिटेशन अधिक प्रभावशाली होता है।
  3. सुबह का काल मनोहर काल होता है इस समय ब्रह्मांड में ऊर्जा का संचार सबसे ज्यादा होता है ।
  4.   ध्यान के दौरान हमारी ब्रह्मांड की ऊर्जा बढ़ जाती है और यह मनोहर काल में किया जाए तो ब्रह्मांड की ऊर्जा का संचार और अधिक तीव्र गति से होने लगता है इसका असर आपकी चिंतन शक्ति को बढ़ाता है आपके मन को शांति का प्रभाव अधिक होता है।
  5. सुबह की पहली किरण जब धरती पर पड़ती है तब सूर्य के चार्ज पार्टिकल के चलते हमारी धरती बहुत मैग्नेटिक फील्ड जनरेट करती है जिसके कारण हमारी बॉडी और दिमाग में बहुत से रासायनिक प्रतिक्रिया होने लगती हैं जिसके कारण दिमाग बहुत शांत होता है और हमारे सोचने की क्षमता बढ़ जाती है।
  6. इस प्रकार सुबह के समय में किया गया मेडिटेशन या ध्यान हमारे शरीर में अधिक ऊर्जा विकसित करता है और यह समय उचित माना गया है।
  7. शाम को 2:00 से 6:00 के बीच किया गया मेडिटेशन या ध्यान

Meditation at 2 to 6 P.M.

शाम के समय हमारे शरीर में  ऊर्जा भर जाती है और हमारा मस्तिष्क सोचने की प्रक्रिया अधिक करने लगता है, इस समय हमारी चिंतन शक्ति को बढ़ावा मिलता है इस कारण ध्यान की ओर एकाग्रचित्त होना हमारे लिए मुश्किल होता है। प्रातः काल से किए गए कार्यो के कारण शरीर को थकान भी महसूस होती है जिसके कारण भी ध्यान (Meditation) करना थोड़ा कठिन होता है। इस कारण 2:00 से 6:00 के बीच में या 4:30 बजे के बीच किया गया ध्यान बहुत ज्यादा लाभकारी नहीं होता है।

रात्रि 10:00 से 12:00 के बीच में किया गया ध्यान (Meditation at 10 to 12 P.M.)

10:00 से 12:00 के बीच अधिकांश रूप से साधु महात्मा आदि ध्यान करते हैं, क्योंकि जो लोग गहरी साधना करते हैं। उनके लिए यह समय उचित है। जो लोग रात्रि में गहरी  साधना करते है  उस समय शरीर की ऊर्जा नीचे से ऊपर की ओर जाती है।

क्योंकि सूर्य का प्रकाश पृथ्वी के दूसरे छोर से पढ़ रहा होता है, जो मूलाधार चक्र से ऊपर की ओर धक्का देकर आज्ञा चक्र की तरफ लेकर जाता है जिन लोगों को संसार में रुचि नहीं है जो परमात्मा को वास्तविक रूप से जाना चाहते हैं उनके लिए ध्यान का समय रात्रि 10:00 से 12:00 का उचित होता है। अतः यह कहना उचित होगा कि हमारा शरीर प्रकृति के समय के अनुसार ही चलना चाहिए।

FAQ Related To What is the best time for Meditation in Hindi

It is better to meditate in the morning or at night?( क्या सुबह Meditate करना सही होता है या रात में)

ऐसा कहीं भी नहीं लिखा हुआ कि आप Meditation सिर्फ सुबह के वक्त नहीं कर सकते हैं । Experts की राय माने तो आप Meditation के फायदे जितने सुबह में करके उठा सकते हैं उतना ही रात में उठा सकते हैं। मतलब Meditation यदि सुबह किया जाए या फिर रात में वह उतना ही लाभदायक होता है बस आपको पूरे ध्यान से उसे करना होता है।

Why is 3am the best time to Meditate?(सुबह के तीन बजे को क्यों सबसे अच्छा वक्त माना जाता है Meditation के लिए?)

सुबह के 3:00 बजे को हिंदू पुराणों में ब्रह्म मुहूर्त का नाम दिया गया है । ऐसा कहा जाता है कि इस वक्त में आप जो भी काम किया करते हैं मैं आपको बहुत लाभदाई हुआ करती है । क्योंकि उस वक्त में बहुत शांति हुआ करती है सब लोग सोए हुए होते हैं और उस वक्त मैं आपका ध्यान लगाना बहुत आसान हो जाता है।

Final words for What Is The Best Time For Meditation in Hindi and its 4 Benefits

इस Article Best Time For Meditation के माध्यम से आज हम लोगों ने आप तक यह बात पहुंचाने का प्रयत्न किया है कि Best Time For Meditation क्या होता है । उस वक्त पर Meditation करने से हमें क्या-क्या फायदे मिल सकते हैं और भी बहुत सारे सवालों के जवाब इस Article के माध्यम से हमने आप लोगों को देने की कोशिश की है।

हम आशा करते हैं कि आपको हमारा यह आर्टिक्ल ‘What Is The Best Time For Meditation in Hindi’ पसंद आया होगा । अपना कीमती समय देकर इस आर्टिक्ल को पढ़ने के लिए आपका बहुत बहुत धन्यवाद।

Leave a Comment