What is Sixth Sense in Hindi with1 amazing Fact

छठी इंद्री क्या है ? (What is Sixth Sense):-

छठी इंद्री क्या है? (What is Sixth Sense in Hindi?) उसे कैसे जागृत किया जा सकता है? सिक्सथ सेंस का अर्थ है छठी इंद्री । थोड़ी बहुत मात्रा में यह सभी में जागृत होती है । दोस्तों आपने छठी इंद्री के बारे में बहुत देखा और सुना होगा । हमारे शरीर में पांच प्रकार की इंद्रियां पाई जाती है। जैसे- आंख, नाक, कान, जीभ , त्वचा।

लेकिन इनके अलावा एक और इंद्री होती है जो दिखाई नही देती जिसे केवल महसूस किया जा सकता है और इसे ही छठी इंद्री कहा जाता है । इससे इंग्लिश में Intuition भी कहते है यानि सहज बोध ।

What is Sixth Sense in Hindi
What is sixth sense

आपने भी कभी महसूस किया होगा की भविष्य में होने वाली कुछ घटनाओं का आभास हमें पहले ही हो जाता है दरअसल यह हमारी छठी इंद्री का ही कमाल है । जो हमें भविष्य में होने वाली कई घटनाओं का पहले ही आभास करा जाती है ।

कई बार तो ऐसी घटनाएं भी हमें देखने को मिलती है कि मृत्यु से पूर्व ही इंसान को अपनी मृत्यु का आभास हो जाता है।

छठी इंद्री शरीर में कहाँ होती है ?:-

छठी इंद्री हमारे आज्ञा चक्र में होती है । इसे ही थर्ड आइ भी कहते हैं । औरतों में प्रकृतिक रूप से थोड़ी बहुत मात्र में जागृत होती है । छोटे बच्चों में छठी इंद्री कुछ मात्रा में जागृत होती है । आधात्मिक लोगों में यह धीरे धीरे अपने आप ही जागृत होने लगती है ।

कैसे जागृत करें छठी इंद्री ? How to activate sixth sense:-

छठी इंद्री को जागृत करने का सबसे आसान तरीका ध्यान है । यदि कोई व्यक्ति अपनी छठी इंद्री को जागृत करना चाहता है तो उससे प्रतिदिन ध्यान करना चाहिए। ऐसा करने से छठी इंद्री धीरे धीरे अपने आप ही जागृत होने लगती है । छठी इंद्री जागृत करने में कभी भी जल्दी नहीं करनी चाहिए ।

How to activate sixth sense
Sixth Sense

इस क्रिया को वैसे तो घर पर कभी भी नहीं करना चाहिए । लेकिन फिर भी करें तो योग्य गुरु के सही मार्गदर्शन में करें । नहीं तो लाभ की जगह हानि भी होने का दर रहता है ।

छठी इंद्री से जुड़े तथ्य (Facts Related to sixth sense):-

आइए आपको बताते हैं कि छठी इंद्री क्या होती है और इसे कैसे जागृत किया जा सकता है ? यदि वैज्ञानिकों की माने तो छठी इंद्री हर मनुष्य के अंदर होती है । और यह मानसिक चेतना से जुड़ी प्रक्रिया है और इसी के माध्यम से मनुष्य को भविष्य की घटना का पहले ही आभास हो जाता है ।

पूर्वाभास के संकेत को सपनों में देखने को मिलते हैं या फिर आपको अन्य स्रोतों से पता चल जाता है।   छठी इंद्री आपको हर बार किसी न किसी माध्यम से सचेत करती रहती है।  

आपके मन में आ रही धीमी आवाज को जब आप पहचानते तो आपको पता लगता है कि क्या सही है और क्या गलत है।  छठी इंद्री होती है जो आपको सही और गलत का रास्ता बताती हैं ।

क्योंकि उसे पहले से ही आभास हो जाता है कि आगे क्या होने वाला है भविष्य में घटित होने वाली घटनाओं को छठी इंद्री पहले ही पता कर लेती है ।

बिना आंखों की दृष्टि के कैसे काम करती है:-

कभी कबार लोगों की आंखों की रोशनी चली जाती है इसके चलते भी बाहरी वातावरण को महसूस नहीं कर पाती परंतु जब आपकी छठी इंद्री जागृत हो जाती है तो आप बाहर के वातावरण को पूरी तरह से महसूस कर सकते हो।  

बाहर हो रही प्रत्येक घटना  को आप एक सत्य घटना के रूप में मान सकते हैं । जब आपकी छठी इंद्री जागृत होती है तब आप आपके पास की हर वस्तु को महसूस कर सकते हैं कि उसमें क्या घटनाएं हो रही है कौन सी चीज में हलचल हो रही है ।

आप सब कुछ महसूस कर सकते हो। छठी इंद्री में वह पावर है जो व्यक्ति को किसी का मस्तिष्क पढ़ने की शक्ति भी देती है ।

बिना आंखों की दृष्टि के कैसे काम करती है

क्या होता है छठी इंद्री के जागृत हो जाने पर ?:-

यदि व्यक्ति की छठी इंद्री जागृत हो जाती है तो उसे भविष्य में होने वाली घटनाओं का किसी न किसी माध्यम से पहले से ही पता चल जाता है।  छठी इंद्री जागृत होने पर हम दूसरे व्यक्तियों के अंदर के भाव जान सकते हैं कई मिलो दूर बैठे व्यक्तियों की बातें महसूस करने की शक्ति भी हमें मिल जाती है ।

यदि किसी मनुष्य की छठी इंद्री पूरी तरह से जागृत हो जाए तो उससे संसार की कोई भी वस्तु या बात छुपी हुई नहीं रह सकती है । ऐसे में उस व्यक्ति में अनंत क्षमता ओं का विकास हो सकता है । जिनका हम अंदाजा भी नहीं लगा पाते ।

FAQ Related to What is sixth sense:-

Kiya sixth sense ki medicine hoti hai ya?

नहीं, sixth sense की कोई medicine नहीं होती ।

Can we be able to be in contact with God after activation our six senses?

yes, हाँ । हमारी six senses जागृत होने के बाद हम भगवान से सम्पर्क कर सकते हैं ऐसे काफी example हमारे ग्रन्थों में मिले हैं ।

What percentage of humans have their sixth sense active?

लगभग सभी लोगों में sixth sense active होती है लेकिन इसकी मात्रा कम या ज्यादा होती है । परंतु बच्चों और औरतों में यह ज्यादा स्क्रीय होती है । भोले, सकारात्मक और आधात्मिक लोगों में यह ज्यादा मात्रा में जागृत होती है ।

Final word for What is Sixth Sense in Hindi:-

आज के इस टॉपिक के माध्यम से हमने आपको बताया कि (What is Sixth Sense in Hindi) छठी इंद्री क्या होती है उसे कैसे जागृत किया जा सकता है ? छठी इंद्री को जाग्रत करने से क्या होता है छठी इंद्री को किस तरह से जागृत किया जा सकता है ।

इन सभी विषयों के ऊपर हमने विस्तृत रूप में चर्चा की । हम आशा करते हैं कि आपको हमारा या आर्टिकल बहुत पसंद आया होगा और आपको इस आर्टिकल के माध्यम से कुछ नया सीखने को मिला हो तो हमें कमेंट बॉक्स में जरूर बताएं । हम आपके राय की प्रतीक्षा करते हैं।  

Leave a Comment