4 Exclusive Morning Yoga for Beginners in Hindi

आज के इस लेख के द्वारा हम जानेंगे Exclusive Morning Yoga for Beginners in Hindi के बारे में पूरी जानकारी . जब हम कभी योग के बारे में सोचते है तो हमारे मन में कई तरह के Yoga आते है .

हर व्यक्ति उन Yoga को नहीं कर सकता है . हमें Yoga साधना को समझने के लिए सबसे पहले Yoga के महत्त्व को जानना आवशयक है . 

4 Exclusive Morning Yoga for Beginners in Hindi
Morning yoga for beginners

घर पर शुरुआती लोगों के लिए मॉर्निंग योग कैसे करें (How to do Morning Yoga For Beginners at Home):-

घर पर योग करने के लिए घर का वातावरण शांत होना बहुत ही जरूर है । यदि आपको योग का पहले कोई भी अनुभव नहीं है तो ऐसे में आप शुरू में किसी योग गुरु का मार्गदर्शन भी ले सकते हैं । आज कल ऑनलाइन योग कक्षा भी मिलती हैं । आप प्रारम्भ में ऑनलाइन योग कक्षा का सहारा भ ले सकते हैं ।

How to start Morning yoga for beginners at Home

Our Recent Article:-

21 Easy Benefits of Pranayama in Hindi

जब भी हम पहली बार ये सोचते है की हम योग करेंगे तो हमें कई कठिनाइया देखने को मिल जाती है .कभी कभी तो हमारा मन करता है की योग करना ही नहीं चाहिए . ऐसा होने का मुख्या कारण है

की हमें योग करने का सही तरीका पता नहीं होता . जब हम योग से पूरी तरह से परिचित नहीं होते तो हमें योग के महत्त्व को जानना पड़ेगा तभी हम योग साधना में सफल हो पाएंगे .

शुरुआती लोगों के लिए मॉर्निंग योग कैसे शुरू करें (How to start Morning Yoga for Beginners in Hindi):-

सुबह फ्रेश होकर एक शांत जगह का चयन करें । योग करने के लिए मेट या चटाई का प्रयोग करें । सबसे पहले अपने हाथ पैर को हिला कर एक्टिव करें । जब आपका ऊर्जा स्तर सही हो जाए तब योग करना शुरू करें । प्रारम्भ में योग करने के लिए निम्नलिखित योग आसनो का प्रयोग करें ।

How to do Morning yoga for beginners in Hindi

आज हम आपको Types of Yoga Asanas Poses for Beginners Hindi के बारे कुछ जानकारी देंगे जो आपके लिए कुछ फायदेमंद हो सकती है .

योग आसान फॉर बिगिनर्स ॥ Yoga Asanas For Beginners

अधो-मुख स्वानासन (Adho Mukha Svanasana)

 अधोमुख स्वानाशन को हम योग विज्ञानं का एक मत्वपूर्ण अंग बता सकते है .जब भी हम किसी इंस्टिट्यूट में या किसी योग गुरु से ये योग सीखते है तो हमें सबसे पहले ऐसी योग को करने के लिए बोला जाता है .इससे आपके शरीर में बहुत ही जबरदस्त खिचाव आने के कारण अच्छे से रक्त परिसंचरण तंत्र काम करता है .

अधोमुख स्वानासन करने की विधि

  1. एक दरी या पट्टी ले और उस पर पेट के बल लेट जावे
  2. धीरे धीरे स्वास ले और अपने हाथ एवं पैर के बल अपने शरीर को धीरे धीरे ऊपर उठाये और टेबल के जैसी एक आकृति बनाये .
  3. बहुत ही धीरे से अपने हिप्स को ऊपर की तरह उठाये एवं स्वास को मंद मंद छोड़े .
  4. अपने शरीर के घुटनो और कोहनियो को और मजबूत करे .
  5. आप ऐसा महसूस करे की आपका शरीर उलटे V के आकर का बन सुका है .
  6. हमेशा ध्यान रखे की आपके कंधे और हाथ एक दिशा में हो .
  7. आपके पेरो को हमेशा हप्स की तरह रखना एवं टकने बाहर की तरह रखने का प्रयाश करे .
  8. अपने हाथो की जमीन की तरह दबाये .
  9. अपनी गर्दन को लम्बा खींचने का प्रयत्न करे .
  10. अपनी निगाहो को नाभि पर फोकस कीजिये .
  11. कुछ क्षण प्रतीक्षा करने के बाद अपने घुटनो को आप जमीन पर लाये .
  12. एवं मेज के सामान स्थिति में वापस आये .

वृक्षासन

इसमें आपको पेड़ की तरह खड़े होकर ये आसान करना होता है . एवं ये आसान नए लोगो के लिए बहुत ही फायदे मंद हो हो सकता सकता है . इस तरह का आसान आपके मन की एकाग्रता को बढ़ाने में काफी मदद करता है .

वृक्षासन करने की विधि 

  1. अपने शरीर को एक डैम शवाधान की मुद्रा में खड़े रखे
  2. अपने दोनों हाथो को अपनी जांघो के नजदीक ले आये
  3. मंद गति से अपनी बायीं जांघ को दायी जांघ के नजदीक लाये .
  4. एवं अपने बाये पैर को संतुलित रूप से जमीं पर बनाये रखे
  5. बाये पैर को पूरी तरह से सीधा करने के उपरांत अपने साँस की गति को सामान्य अवस्था में लाये
  6. धीरे धीरे स्वास लेते हुए अपने हाथो को ऊपर की तरह उढ़ाये
  7. अपने हाथो से नमस्कार की आकृति बनाये
  8. किसी दूर की वास्तु पर अपना ध्यान केंद्रित करने की कोशिस करे
  9. अपने रीढ़ की हड्डी को बिलकुल सीधा रखे इससे आपके शरीर में लचीलापन आएगा
  10. गहरी गहरी सांसे अपने भीतर खींचे
  11. साँस छोड़ते समय अपने शरीर को ढीला करे
  12. धीमे धीमे अपने हाथो को निचे की तरह लाये
  13. अब दायी तंग को आप धीरे से जमीन पर लाये
  14. अब आप पहले की भांति अपनी अवस्था में खड़े हो जाये
  15. ऐसी प्रक्रिया को आप बताये step के अनुचार वापस बाए पाव के साथ दोहराये

पश्चिमोत्तानासन (Paschimottanasana )

पश्चिमोत्तानासन को हम योग विज्ञानं का अभिनज्ञा अंग कह सकते है . इस आसान को बैठकर व् सामने की तरह झुककर किया जा सकता है

पश्चिमोत्तानासन  करने की विधि

  1. जमीन के ऊपर अपने दोनों पावो को फैलाकर बैठ जाये
  2. इस बात का ध्यान रखे की अपने पावो को बीच में कोई नहीं रहे . एवं जितना संभव हो अपने पावो को सीधा रखे
  3. साथ ही आप इस बात पर भी गौर करे की अपने गर्दन , पैर , रीढ़ की हड्डी को सीधा रखे
  4. पश्चिमोत्तानासन  करने की विधि
  5. जमीन के ऊपर अपने दोनों पावो को फैलाकर बैठ जाये
  6. इस बात का ध्यान रखे की अपने पावो को बीच में कोई नहीं रहे . एवं जितना संभव हो अपने पावो को सीधा रखे
  7. साथ ही आप इस बात पर भी गौर करे की अपने गर्दन , पैर , रीढ़ की हड्डी को सीधा रखे
  8. एवं अपने हाथ की हथेलियों को अपने घुटनो पर रखे
  9. अभी आप धीरे धीरे अपने शरीर को निचे की और झुकाये
  10. अपने घुटनो में बिना कोई बैंड लाये अपने हाथो से पेरो की अंगुलियों को स्पर्श करने की कोशिस करे
  11. गहरी गहरी स्वास ले एवं छोड़े
  12. अपने मस्तिष्क को घुटनो से स्पर्श करने की कोशिस करे
  13. अगर संभव हो तो अपनी कोहनियो को जमीं पर झुकाये
  14. काफी समय तक आप ऐसी मुद्रा में रहे एवं स्वास की गति को सामान्य करे
  15. कुछ  time के बाद आप अपनी पहले वाली अवस्था में आ जाये

सेतु बंधासन

  1. यह आशन अधोमुख स्वसाशन का विपरीत रूप है . यह योग्याभ्यास नए योग अभियार्थीयो को जरूर सीखना चाहिए
  2. सेतु बंधासन करने की विधि :
  3. अपने आशान को ग्रहण करने के बाद सामान्य रूप से स्वाश ले
  4. अपने हाथो को बगल की साइड में रखे
  5. अब आप बहुत धीरे धीरे   अवस्ता में अपने हिप्स तक अपने घुटनो को पहुचाये
  6. जितना संभव हो  हमेशा हिप्स को ऊँचा रखे
  7. कुछ क्षण के लिए अपनी स्वास रोके
  8. अपने पेरो को विश्राम की मुद्रा में छोड़ दे
  9. 10 -15 सेकंड तक आराम जरूर करे

शुरुआती लोगों के लिए सुबह योग के लाभ (Benefits of Morning Yoga for Beginners):-

  1. योग करने पूरे दिन अच्छा महसूस करता है ।
  2. शरीर का ऊर्जा स्तर अच्छा रहता है ।
  3. धीरे धीरे B.P. की बीमारी ठीक होने लगते हैं ।
  4. भूख सही लगती है ।
  5. पूरे दिन मूड अच्छा रहता है ।
  6. हृदय की बीमारी भी धीरे धीरे ठीक होने लगती है ।
  7. आँखों की रोशनी ठीक होती है ।
  8. याद करने की क्षमता अच्छी होती है ।
  9. पेट से संबन्धित बीमारियाँ भी ठीक होती है ।
  10. इम्यून सिस्टम अच्छा होता है ।

FAQ Related To 4 Exclusive Morning Yoga For Beginners in Hindi

How do I start doing yoga in the morning ? (Morning Yoga में कैसे शुरू कर सकता हूं?)

किसी भी व्यक्ति के लिए सुबह जल्दी उठकर योग की शुरुआत करना बहुत ही ज्यादा challenging काम हुआ करता है । तो इसीलिए आपको पहले अपने Brain को प्रिपेयर करना होता है कि आप जो भी कर रहे हैं वह आपके लिए फायदेमंद होगा तो ही morning yoga शुरू करने से पहले सबसे पहले आप को उसके फायदे जानने होंगे और धीरे-धीरे आप उसके लिए convince हो जाएंगे ।

What type of yoga should I do in the morning?( सुबह मुझे किस टाइप का योग करना चाइए?)

योग करने का main मकसद हुआ करता है शरीर और दिमाग को शांति पहुंचाना यदि आप योग की शुरुआत ही कर रहे हैं तो आपको सुबह-सुबह इस तरह का योगासन करने की जरूरत होती है जिससे आपका physical और mental दोनों तरह से शान्ति मिले।

What is a good Beginner Yoga? ( Good Beginner योग क्या होता है?)

वैसे तो यह प्रत्येक मनुष्य के लिए अलग-अलग हुआ करता है पर experts की मानें तो experts जब भी किसी beginners को योग करने की सलाह दिया करते हैं तो वह उन्हें Hatha yoga करने की सलाह दिया करते हैं क्योंकि Hatha Yoga एक ऐसा योग है जिसमें movement बहुत ही ज्यादा gentle हुआ करता है।

Final Words For 4 Exclusive Morning Yoga For Beginners in Hindi

इस Article के माध्यम से आज हमने आप लोगों को यह बताया कि यदि आप योग करने में Beginner है या फिर आप योग की शुरुआत करते हैं । तो आप कौन कौन से योगासन पहले शुरुआती दौर में कर सकते हैं जिससे कि आपकी रूचि योग के प्रति बड़े और उसके आपको फायदे भी हो। आशा है कि आपको यह Article पसंद आया होगा अपना कीमती वक्त निकालकर इसे पढ़ने के लिए धन्यवाद!

Leave a Comment