3 Best Third Eye Chakra Meditation Techniques in Hindi

3 Best Third Eye Chakra Meditation Techniques in Hindi:-

आज हम बात करेंगे 3 Best Third Eye Chakra Meditation Techniques in Hindi के विषय में । मानव की दो आँखे होती हैं ऐसा हम बचपन से सुनते रहे हैं । मगर आज हम तीसरी आंख (Third eye ) के बारे में बताने वाले हैं ।

इस लेख को अंत तक पढना आपको बहुत सारी महत्वपूर्ण जानकारी पढ़ने को मिलेगी । हमारे धर्म ग्रन्थों में भगवान शिव की तीसरे नेत्र का वर्णन मिलता है । जिसे भगवान शिव किसी भी व्यक्ति/ वस्तु के बारे में दूर दृष्टि लगाते थे । तो क्या मानव में भी थर्ड आई होती हैं ।

Third Eye Chakra Meditation Techniques
Third Eye Chakra Meditation Techniques

जी हां आप meditation से Third eye खोल सकते हैं । क्योंकि यह आँख अंधी नहीं है बल्कि बंद हैं इसे आप थोड़े प्रयासों से Feel कर सकते हैं तो चलिए जानते हैं:-

तीसरी आँख क्या है ? ( What is third eye? ): –

तीसरी आँख ( Third eye ) कोई वास्तविक जिंदगी में कोई आँख नहीं जो आपके दोनों आखो के बीच में से निकल आयेगी । यह एकमात्र प्रतिक हैं Third eye यानी आज्ञा चक्र का । इसे हम महसूस कर सकते हैं । या अंत दृष्टि के नाम से भी जाना जाता है ।

असल में हमारे दोनों आखो में इतनी शक्ति नहीं हैं । वो दूर दृष्टि से किसी व्यक्ति / वस्तु के बारे में आंतरिक सरचना को देख पाते हैं ।

मगर तीसरे नेत्र से यह सब सम्भव है । मानव शरीर की 5 इंद्रियों से हम भलीभांति परिचित हैं लेकिन इसे छठी इंद्री हैं जिसे गुप्त इंद्री भी कहा जाता है ।

अध्यात्मक दृष्टि से आत्मा का वास इसी क्षेत्र में होता हैं इसे अचेतन मन ( subconscious mind ) भी कहा जाता है ।

◆ तीसरे नेत्र को कैसे जागृत करें ? ( How to Activate Third Eye ? ) :-

किसी चीज को तभी जगा पाओंगे जब वो सोई होगी । वे तो हमेशा से ही जगी हुई हैं । बस आपके विचारों की परख उसके ऊपर हैं । जब वो परख हट जायेगी ।

तब आपको उसी क्षण पता लगेगा की आप तो पहले से ही जागृत थें । तब आप अपने आप पर  ही मुस्कुरायेंगें की, मैं ज्ञान के इतने पास था पर अभी तक समझ नहीं पाया ।

Our Recent Articles:-

  1. Basic Meditation
  2. Benefits of Meditation For Students

हर दिन विचारों की परख आप पर बढती जा रही हैं । जिस कारण आप इस ज्ञान से हर रोज दूर होते जा रहें हैं । आपको बस इस परख को हर दिन हर समय साफ करने की जरुरत हैं ।

◆ तीसरी आँख की चमत्कारी  शक्तियां – जब हम लगातार ध्यान करते हैं और परमात्मा, देवी, देवताओं और आत्मा के जगत पर सच्चा विश्वास करते हैं,

तो हमें कई विद्याये बहुत जल्दी /अपने आप ही आ जाती हैं । ऐसा तब होता हैं जब अस्तित्व को यह लगता हैं, कि व्यक्ति इन विद्याओ का इस्तेमाल मानव कल्याण के लिये करें ।

ऐसी भावना जागने पर पुरी अस्तित्व की और अदृश्य देवी, देवता, गुरुओं, संतो और भला करने वाली आत्माओं की शक्तियां उस व्यक्ति के साथ हो जाती हैं

और उसकी मदद करती हैं । देवी देवताओं और गुरुओ से यह शक्तियां हमें सामान्यतः गहरे ध्यान में मिलती हैं ।

तीसरा नेत्र/ आज्ञाचक्र ध्यान  (Third Eye Mediation Techniques):-

इस ध्यान में आप अपने attention को बाहर से समेटते हुए अपने तीसरी आंख पर /जिसे हम आज्ञा चक्र भी कहते हैं । उस पर लेकर आयेंगे third eye की exact location क्या हैं ?

यह हमारी दोनों eyebrows के बीच में जो बिंदू हैं उसके ठीक पिछे और दोनों कानों के बीच में यह आज्ञाचक्र आत्मा की पक्की जगह हैं ।  आपको सबसे पहले ऐसी जगह ढुंढनी हैं जहा कोई Distraction ना हों ।

उस जगह आप एक चटई बिछाकर बैठ जाये । आप किसी भी अवस्था में बैठ सकते हैं । बस आपकी कमर सीधी होनी चाहिये । गर्दन कों हल्का सा उपर की तरफ रखे । अब आप कोमलता से अपनी आंखे बंद कर लें । दो गहरी सांसे लें ।

Third Eye Chakra Meditation Techniques in Hindi
Third Eye Chakra Meditation Techniques in Hindi

अपने आपको पुरी तरह से शांत कर लें । 4 तक गिनते हुये गहरी सांस भरना शुरु करें । एक बार फिर अपने शरीर को अपने पैरो के टाँस से और अपनी सर की शिखा तक पुरी तरह से स्केन करें । किसी पार्ट में कोई भी टेंशन हो तो उसे रिलीज करें ।

अपनी सांसो पर ध्यान दें । ध्यान दे कि, किस nostril से आप सास ले रहे हैं ओर किस nostril से आप सांस छोड  रहे हैं ।

अब सावधानी से दोनों nostril से एक साथ सांस लेना  शुरु करें । जब सांस छोड रहें हैं तब आप दोनों nostril  से एक साथ सांस छोडें । इस क्रिया को कुछ समय तक करें ।

Focus Points Related to 3 Best Third Eye Chakra Meditation Techniques :-

Third eyes को जागृत करने से हमे बहुत सारे फायदे हैं । तीसरे नेत्र के Active होने से अलौकिक शक्ति के बारे में जान सकते हैं तो चलिए जानते हैं

Benefits of third eye activation in Hindi :-

1. बौद्धिक क्षमता में वृद्धि :-

तीसरे नेत्र के जागृत होने से आपकी बौद्धिक क्षमता में तेजी से इजाफा होगा । आप किसी व्यक्ति / वस्तु के बारे में गहराई ( Deeply ) से सोचने में सक्षम होंगे ।

2. सोचने की क्षमता ( Thinking power ) में वृद्धि :-

Third eye activated होने से आपकी सोचने समझने की शक्ति में वृद्धि होगी । जिसे आप किसी कार्य को अच्छे ढंग से करने में सफल रहेंगे ।

3. पूर्वानुमान लगाने की क्षमता :-

तीसरी आँख खुलने से आप किसी भी व्यक्ति / होने वाली घटना के बारे में पूर्वानुमान लगाने में सफल रहेंगे ।

4. सवेदनशीलता: –

Third eye का सबसे अच्छा Benefit यह है कि आप इनके ऐक्टिवेट होने से आप पहले से ज्यादा सवेंदनशील हो जाएंगे । जिसे आप सकारात्मक या नकारात्मक एनर्जी के बारे में आसानी से Feel कर सकते हैं ।

5. दूरसंवेदन ( Telepathy ) :-

तीसरे नेत्र जागृत होने से दूरदृष्टि लगाने में सफल रहे हैं । आप अदृश्य चीज़ों को आसानी से महसूस कर सकते हैं ।

किसी व्यक्ति/वस्तु के बारे में सही गलत की परख करने की क्षमता में वृद्धि होगी । आप भूतकाल एवं भविष्य काल से वाफिक होंगे ।

जिसे आप होने वाली घटनाओं का महसूस कर सकते हैं । किसी समस्या का भी अच्छे से हल निकल सकते हैं ।

6. मानसिक संतुलन:-

Third eye activated होने आप मानसिक रूप से संतुलित रहेंगे । तनाव पूर्ण स्थिति में भी आप आपा नहीं खोएंगे ।

आप परिस्थितियों के अनुरूप खुद को ढालने में सफल रहेंगे । आपके दिल में प्रेमभाव बना रहेगा । Third eye activation होने से आप पथ भृमित नहीं होंगे ।

7. सजंगता:-

तीसरे नेत्र के खुलने से आपकी कल्पना शक्ति में वृद्धि होगी । जिसे  आपकी सजगता में वृद्धि होगी । आप किसी के बारे में बुरा न सोचेंगे । किसी का नुकसान नहीं करेंगे । आप हमेशा कर्म करने में यकीन करेंगे ।

You Must See this Video:-

Sound Of Silence

FAQ Related to 3 Best Third Eye Chakra Meditation Techniques in Hindi:-

Q. तीसरी आँख जागृत होने के अनुभव ?

Ans. तीसरी आँख जागृत होने पर हमारी intuition Power बढ़ जाती है । इसका मुख्य लाभ यह होता है कि हम कोई भी काम करते हैं तो हमे उसके परिणाम पहले से ही आभास होने लगते है ।

What does it mean to open your Third Eye?( Third eye खुलने का मतलब क्या होता है?)

Third eye open होने का मतलब होता आपको wisdom मिल चुकी है और आप spiritually connected हो चुके हो । Third eye दरहसल हमारे spiritual connection, awareness Perception को दर्शाती है ।

Is it safe to Open Chakras ?( क्या चक्र open करना safe होता है?)

ज़ी हां चक्र को जग्रत करना एक दम safe हुआ करता है।
यदि आप proper guidance के साथ यह किया करते हैं और अच्छे से इसे संभालते है तो कोई भी चक्र आप जागृत कर भी सकते है और वह उतना ही साफ़ हुआ करता है।

Final words for 3 Best Third Eye Chakra Meditation Techniques in Hindi:-

इस Article के माध्यम से आज हम लोगों ने third eye chakra के बारे में बताने का प्रयास किया । इस article के माध्यम से आज हम लोगो ने यह बताया कि third eye Meditation क्या होता है और इसके फायदे क्या होते है। मैंने इस आर्टिक्ल (3 Best Third Eye Chakra Meditation Techniques in Hindi) तीसरी आँख चक्र ध्यान तकनीक में अपना अनुभव आप सभी के साथ साझा किया । मैं आशा करता हूँ कि आपको यह आर्टिक्ल पसंद आया होगा

Leave a Comment