Reiki Treatment To Bad Habit in Hindi By Reiki Grandmaster: 2 Best Focus Point

 Reikiसे आप किसी भी लत को छोड़ (Reiki Treatment To Bad Habit in Hindi) सकते हैं, चाहे वो शराब पीना हो, सिगरेट या बीड़ी पीना हो, गुटका या तम्बाकू खाना हो, बार बार चाय कॉफी पीने की लत हो या फिर और कोई गलत लत हो । हम कोई भी नशा तब करते हैं जब हम असहज होते हैं, या हमें अच्छा नहीं लग रहा होता, हम फ्रेश फील नहीं कर रहे होते ।

Reiki Treatment To Bad Habit in Hindi By Reiki Grandmaster: 2 Best Focus Point

Reiki Treatment To Bad Habit in Hindi By Reiki Grandmaster: 2 Best Focus Point

@taajmindpower.com

How to do Reiki Treatment To Bad Habit:-

रेकी से किसी भी आदत से छुटकारा पाएँ:-

जब से सब क्रिया शरीर में हो रही होती है तो हमारा एक मन दूसरे मन पर हैवी हो जाता है इसलिए हमे ये पता होते की ये आदत गलत है तब भी हम उसको करते चले जाते हैं । जब हम उस व्यक्ति की रेकी करते हैं तो उसके दोनों मन संतुलित हो जाती हैं । इसी कारण रेकी द्वारा ऐसा व्यक्ति धीरे धीरे गलत लत को छोड़ देता है ।  

Reiki Treatment To Bad Habit
Reiki Treatment To Bad Habit

        यदि आपके अन्दर कोई गलत आदत है तो इसके लिए आप स्वयं Reiki सीख कर स्वयं का रेकी उपचार कर सकते हैं या जिसको Reiki आती है उससे भी अपना रेकी उपचार करवा सकते हैं। यहॉं हम स्वयं Reiki उपचार करना बता रहे है। सबसे पहले आपके अन्दर जो गलत आदत है उसको एक पेपर पर लिखें। एक से अधिक है तो उसे भी लिखें परन्तु रेकी उपचार एक-2 करके करें।

मान लीजिए आप गुटका खाते हैं। गुटका छोड़ने के लिए Reiki न करें आप किसी अच्छी वस्तु को खाने के लिए Reiki करें। जैसेः मै दिन में तीन बार फल व सुखे मेवे खाता हूँ । जिससे मेरे शरीर को बहुत लाभ होता है। मै प्रतिदिन शरीर को स्वस्थ रखने वाली वस्तुओं का ही सेवन करता हूँ । मेरा शरीर स्वस्थ है, चुस्त है, मै खुश हूँ -3। हे! रेकी शक्ति ऐसा ही हो-3।

विधिः

        इस विधि का प्रयोग करने के लिए शांत  माहौल का चयन करें । इसको करने के लिए आप कुर्शी, बेड या फिर आसन का प्रयोग कर सकते है यदि आपके पास क्रिस्टल  के ब्रसलेट  हैं तो उनको हाथों में पहन लेंए क्रिस्टल  की माला गले में पहने । 

Reiki हीलिंग म्यूजिक या अल्फा म्यूजिक चलाएं, फिर शान मन से बैठ जाएँ । दोनों हाथों  की हथेलियों को आसमान की तरफ करके Reiki शक्ति का आवाहन करें । आवाहन करते समय मन ही मन अपनी मनोकामना के लिए सकारात्मक वाक्य दोहराएँ । पैरों में जुराब पहने, पैरों के नीचे कपड़ा, चटाई या आसन रखें। इसके लिए आपको तीन तरह से अपनी रेकी करनी है।

पहला

        स्वयं को चार्ज करना। स्वयं को चार्ज करने के लिए रेकी शक्ति का आवाह्न करें- मै स्वयं को चार्ज करने के लिए Reiki शक्ति का आवाह्न करता हूँ/करती हूँ । हे! रेकी शक्ति मेरे अन्दर प्रवाहित हो-3। सबसे पहले प्रतीक 1 से अपने सभी चक्रों को सहसार चक्र से लेकर मूलाधार चक्र तक उपर से नीचे शुद्ध करें। प्रतीक 1 से सभी चक्रों को चार्ज करें, हील करें और जाग्रत करें। उसके बाद आज्ञा चक्र पर प्रतीक 1, 2, 1 लगाए और 15-30 मिनट तक रेकी उपचार करें।

मन ही मन अच्छे व सकारात्मक संकल्प दोहराएं। मेरे अन्दर बहुत आत्मविश्वास है, मेरे अन्दर सभी अच्छी आदते हैं, मै स्वस्थ हूँ, मैं खुश हूँ -3। बाद में प्रतीक 1 को आज्ञा चक्र पर लगातार रेकी उपचार के लिए स्थापित करें। फिर सभी को धन्यवाद करें।

दूसरा

        जो सकारात्मक वाक्य उपर बनाया है उसे एक सफेद ए4 पेपर पर लाल रंग के पेन से लिखें। रेकी प्रतीक भी बनाएं। पेपर की चार तह करें। फिर उस पर अपना फोटो लगाएँ । उस पर चार्ज क्रिस्टल पिरामिड रखें। इसको अपने सामने रखें। अब स्वयं का दूरस्थ रेकी उपचार करें। प्रतीक 3 से अपने आप से जोड़े, प्रतीक 1 से शुद्ध करें। प्रतीक 1 से चार्ज करें। प्रतीक 2 से ऊर्जा को सन्तुलित करें। प्रतीक 1 से रेकी करे। अन्त में प्रतीक 1 को लगातार रेकी उपचार के लिए उसे स्थापित करें। बाद में उस पर प्लास्टिक, लकड़ी का पिरामिड रखें। ताकि उपचार 24 घण्टे चलता रहे। सम्बन्ध विच्छेद करें। सभी का धन्यवाद करें।

तीसरा

जो गुटके आप खाते हैं उनका भी रेकी उपचार करना है। एक दिन में जितना गुटका आप खाते हैं उसको अपने सामने रखें। प्रतीक 1 से उनको शुद्ध करों प्रतीक 1 से चार्ज करों। प्रतीक 2 से ऊर्जा को सन्तुलित करो। 15-30 मिनट तक रेकी उपचार करें। रेखी उर्जा को गुटके पर स्थापित करें। सम्बन्ध विच्छेद करें, कट करें। रेकी उर्जा को बन्द करें, सभी का धन्यवाद करें। गुटकों के स्थान पर अन्य किसी वस्तु का उपचार भी ऐसे ही करें। इस उपचार को आप स्वयं के लिए कर सकते है और दूसरों के लिए भी कर सकते हैं। 

जब यह गुटका आपके अन्दर जाएगा तो आपके अन्दर की नकारात्मक उर्जा को दूर करेगा। और दूसरा इससे जो साइड इफैक्ट होना था वह भी कम होगा। क्योंकि Reiki एक सकारात्मक व पवित्र उर्जा है। जैसे-2 सकारात्मक व पवित्र उर्जा आपके अन्दर जाएगी नकारात्मक व गलत उर्जा आपके अन्दर से दूर हो जाएगी। यदि आप वाक्य में किसी गलत आदत को छोड़ना चाहते हैं या किसी दूसरे की गलत आदतें छुड़वाना चाहते हैं तो उसकी प्रत्येक खाने व पीने की वस्त को चार्ज करे जैसे-पानी, भोजन, कपड़े, चश्मा, बैग इत्यादि। धीरे-2 आपके अन्दर सकारात्मक आदतें बने, ऐसी ही मंगल कामना करते हैं।

My experience Related to ‘Reiki Treatment To Bad Habit’

यहॉं मै एक केस का जिक्र  करना चाहूंगी। एक व्यक्ति दिन में पचास से अधिक गुटके खाता था। उसका परिवार उसकी इस आदत से बहुत परेशान था। वह व्यक्ति भी अपनी इस गलत आदत को छोड़ना चाहता था। लेकिन छोड़ नहीं पा रहा था। उसकी पत्नी को कहीं से रेकी कोर्स का पता चला। उसने रेकी सीखी। फिर उसने एक काम किया, बिना अपने पति को बताए उसके गुटको को रेकी उपचार दिया। क्योंकि उसके घर वाले उस व्यक्ति को समझाकर परेशान हो चुके थे। साथ ही प्रतिदिन पहने वाले कपड़ों का भी रेकी उपचार किया। पत्नी ने गुटका छोड़ने के लिए न तो कहा और न ही समझाया बस रेकी उपचार करती रही। 

Reiki Treatment To Bad Habit in Hindi
Reiki Treatment To Bad Habit in Hindi

पहले दिन गुटको की संख्या कुछ कम हुई। दूसरे दिन आधी और तीसरे दिन मात्र 3 गुटके खाए।  रेकी उपचार के बाद उसने बिल्कुल गुटका खाना छोड़ दिया। उस व्यक्ति को रेकी उपचार के विशय में बिल्कुल भी पता न था। उसके घर के सदस्यों की खुशी का ठीकाना न था। सबने रेकी शक्ति का धन्यवाद किया। कहां वह व्यक्ति गुटका छोड़ने का साहस भी नही कर रहा था कहॉं कुछ दिनों के रेकी उपचार से उसने एक दम गुटका खाना बन्द कर दिया। रेकी शक्ति की वजह से वह इस गलत आदत को छोड़ सका। अब उसके अन्दर गुटका खाने का मन नही होता था। 

You must see below:-

MORNING MOTIVATIONAL VIDEO – Sandeep Maheshwari

जब हम किसी व्यक्ति का रेकी उपचार करते हैं तब रेकी शक्ति उस व्यक्ति के मन को सन्तुलित करती है, मनोबल बढ़ाती है। गलत आदतें खुद ही छुट जाती है उनको छोड़ने के लिए कोई प्रयास नही करना पड़ता। जिस प्रकार अन्धेरे कमरे में अंधेरे को दूर करने के लिए हम अन्धेरे को धक्का नही मारते, बस उजाला कर देते हैं। तो अन्धेरा अपने आप ही दूर हो जाता है।

आप अन्धेरे को दूर करने का कितना भी प्रयास क्यों न करें वह दूर नही होगा। यह एक सामान्य सी बात है। यह बात एक आम आदमी से भी पूछे तो वह यही कहेगा कि अन्धेरे को दूर करने के लिए उजाला कर दो अन्धेरा अपने आप ही दूर हो जाएगा। 

Important Point:-

लेकिन असल जिन्दगी में भी हम यही गलती करते हैं। गलत आदतों को छोड़ने का प्रयास करते हैं। जोकि छुटती नही। यह एक आम सिद्धान्त है। हम आपनी सारी उर्जा गलत आदत को छोड़ने मे ही लगा देते है। सही के विशय में विचार नही करते। एक उदाहरण से समझे- आप सुबह-2 एक विचार करें कि आज मै पूरे दिन सिगरेट के विशय मे नही सोचूंगा। आप बार-2 इस वाक्य को दोहराऐंगे तो क्या होगा। आप चाहे कितनी बार भी इस वाक्य को दौहराए या इसका संकल्प लें, बार-2 होगा यही कि आप उसको याद करोगे ही। 

आम जिन्दगी में भी हम सभी ऐसा ही तो करते हैं। कहेंगे- आज से मै शराब नही पीऊंगा, सिगरेट नहीं पीऊंगा, बीड़ी नहीं पीऊंगा, गुटखा नही खाऊंगा आदि-2। आप अपने धर के सदस्यों से यह बात कहते हैं, मित्रों को, सगे सम्बन्धियो को पूरे दिन यही कहते हैं। आपने अपनी गलत आदतो को छोड़ने का संकल्प भी ले लिया। मै आज से शराब नहीं पीऊंगा। होता क्या है कि शराब फिर आपको पूरे दिन याद आएगी ही। शाम होते-2 आपके मन में शराब ही शराब घुमेगी। 

Focus Points of Reiki Treatment To Bad Habit:-

अन्त में रात को क्या होगा, आप फिर से उसका सेवन कर सकते हैं। आपका मन ललचाएगा। आप नही रह पाऐगें। और यही तो सभी के साथ होता है तभी तो गलत आदतें छूटती नहीं। आपने सारी ऊर्जा शराब छोड़ने में ही लगा दी और वह छुटी भी नही। इसकी अपेक्षा आप एक और भी काम कर सकते हैं। एक नई अच्छी आद डाल लें। प्रतिदिन जूस व दूध पीने की।

आप दिन में दो तीन बार जूस पीओ। रात को सोते समय दूध पीने की आदत बना लो। इस कार्य को बीना एक दिन रोके प्रतिदिन 21 दिनों तक दौहराएं। जब हम कोई कार्य लगातार 21 दिनों तक करते हैं तो हमारा अर्ध जाग्रत मन उसे आदत में बदल देता है।

धीरे-2 आपको जूस व दूध पीने की आदत पड़ जाएगी। जीतनी उर्जा आप किसी गलत आदत को छोड़ने में लगा देते हैं उतनी उर्जा एक सकारात्मक आदत बनाने में लगा दो तो गलत आदतें स्वतः ही धीरे-2 दूर जाएगी। अन्धेरे को हटाने मे आप अपनी सारी उर्जा लगाए क्योंकि अन्धेरा कभी दूर नही हो सकता।  आप उजाला कर दीजिए अन्धेरा स्वतः ही दूर हो जाएगा।

जितनी ऊर्जा आप अन्धेरे को हटाने में लगाते हैं। उसकी मात्र कुछ ऊर्जा उजाला करने में लगा दो अर्थात अनेरे कमरे में बिजली का स्वीच दबा दो या दीया, मोमबती, बैटरी आदि जला दो। एक स्विच को दबाने, दीया, मोमबती या बैटरी जलाने में कितना समय लगता है। मात्र कुछ सैकेण्ड  और अन्धेरा चला जाता है, उजाला हो जाता है।

ध्यान रखें :- 

ठीक उसी प्रकार आप अपने जीवन में करें। अन्धेरे को मत हटाओ, उजाला कर दो। गलत आदतें छोड़ने में अपनी सारी ऊर्जा मत लगाओ, नई अच्छी आदतें बनाओ। आपको पता भी नही चलेगा कि आपकी गलत आदतें कब छूट गई और नई अच्छी आदतें कब बन गई। आपके अन्दर चाहे कोई भी गलत आदत हो या आपके परिचित में कोई गलत आदत हो आपको करना क्या है? आपको बस रेकी करनी है। प्रतिदिन नियम से रेकी उपचार करें। रेकी से नशा मुक्त हो सकते हैं। जिन व्यक्तियों को नशे की, धुम्रपान की लत होती है, रेकी से उसे नियंत्रित किया जा सकता है।

Final words for Reiki Treatment To Bad Habit:-

हम आशा करते हैं कि आपको हमारा यह आर्टिक्ल ‘Reiki Treatment To Bad Habit in Hindi’ पसंद आया होगा । आप इसे अपने जीवन में अपनाएं और सकारात्मक परिवर्तन देखें ।

Leave a Comment